अब सीनियर खिलाड़ियों की भी युवा इज्जत नहीं करते: युवी




नई दिल्लीभारत के पूर्व हरफनमौला का मानना है कि मौजूदा टीम इंडिया में विराट कोहली और रोहित शर्मा के अलावा ज्यादा रोलमॉडल नहीं हैं। उन्होंने साथ ही कहा कि अब सीनियर्स का युवा खिलाड़ी ज्यादा सम्मान नहीं करते। इंस्टाग्राम पर सवाल-जवाब सेशन में वनडे और टी20 टीम के उप-कप्तान रोहित ने युवराज से मौजूदा टीम और उनके समय की टीम में अंतर के बारे में पूछा।

इस पर युवराज ने कहा, ‘जब मैं या तुम टीम में आए तो हमारे सीनियर काफी अनुशासित थे। उस समय सोशल मीडिया नहीं था और ध्यान नहीं भटकता था। सभी को आचरण का खास ख्याल रखना पड़ता था।’

पढ़ें,
उन्होंने कहा, ‘… लेकिन अब ऐसा नहीं है। मैं आप सभी से कहना चाहता हूं कि भारत के लिए खेलते समय अपनी छवि का खास ख्याल रखें। टीम में विराट और तुम ही सारे फॉर्मेट खेल रहे हो, बाकी सब आते-जाते रहते हैं।’

उन्होंने कहा, ‘अब टीम में उतने रोल मॉडल नहीं है। सीनियर्स के प्रति सम्मान भी कम हो गया है। कोई भी किसी को कुछ भी कह देता है।’

युवराज ने कहा, ‘हमें एक निश्चित तरीके से अपने आप को संभालना होता था। हम अपने सीनियर खिलाड़ियों की तरफ देखते थे कि वो मीडिया में किस तरह से बातें कर रहे हैं और बाकी सब। वह आगे से नेतृत्व करते थे। यही हमने उनसे सीखा और आप लोगों को भी बताया।’

बाएं हाथ के इस बल्लेबाज ने हार्दिक पंड्या और लोकेश राहुल के कॉफी विद करण शो पर हुए विवाद का हवाला देते हुए कहा, ‘राहुल और हार्दिक का मामला ले लीजिए। हम सोच नहीं सकते थे कि ऐसा होगा। यह उनकी भी गलती नहीं है। आईपीएल के अनुबंध भी काफी लंबे होते हैं। खिलाड़ी भारत के लिए नहीं खेलते तब भी काफी पैसा आता है।’

युवराज ने कहा, ‘आपको मार्गदर्शन के लिए सीनियर चाहिए होते हैं। सचिन ने हमेशा मुझसे कहा कि अगर आप मैदान पर अच्छा करोगे तो सब कुछ सही होगा। मैं एनसीए में था और देखा खिलाड़ी टेस्ट मैच नहीं खेलना चाहते। दूसरी पीढ़ी टेस्ट मैच खेलना नहीं चाहती यही क्रिकेटरों का असली टेस्ट है।’ रोहित ने इस पर युवराज का साथ दिया और कहा, ‘जब मैं आया था तो काफी सारे सीनियर थे लेकिन अब माहौल थोड़ा हल्का है।’



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *