Coronavirus effect in bihar: बिहार लॉकडाउनः सीएम नीतीश कुमार ने 100 करोड़ के राहत पैकेज का किया एलान – bihar lockdown: cm nitish kumar announced 100 crore relief package



बिहार के सीएम नीतीश कुमार ने कोरोना वायरस के चलते बिहार में लागू लॉकडाउन से प्रभावित लोगों को राहत देने के लिए 100 करोड़ के राहत पैकेज की घोषणा की है। इससे लोगों को काफी राहत मिलेगी।

Ashok Upadhyay | नवभारतटाइम्स.कॉम | Updated:

हाइलाइट्स

  • सीएम नीतीश कुमार ने की 100 करोड़ रुपये के राहत पैकेज की घोषणा
  • बिहार के शहरों में बनाए जाएंगे आपदा राहत केंद्र
  • बिहार के बाहर फसे बिहारियों को भी राहत मिलेगी
  • सरकार ने बनाई अधिकारियों की टीम

कोरोना वायरस को लेकर देश में लॉकडाउन है। लॉकडाउन से निपटने के लिए बिहार के सीएम नीतीश कुमार ने 100 करोड़ रुपये के राहत पैकेज की घोषणा की है। बीते दिन नीतीश कुमार ने राशनकार्ड धारकों के खाते में एक-एक हजार रुपये राशि डालने का एलान किया था। बिहार सरकार ने सीएम रिलीफ फंड से 100 करोड़ रुपये जारी किए हैं।

बाहर फसे बिहारियों के लिए सरकार ने उठाए कदम


कोरोना वायरस से निपटने के लिए बिहार सरकार ने मुख्यमंत्री राहत कोष में 100 करोड़ की राशि जारी की है। इस राशि का उपयोग लॉक डाउन के कारण बिहार के अंदर जो मजदूर, रिक्शा चालक ,ठेला चालक ,वेंडर और अन्य गरीब फंसे हुए है। उनके के लिएआपका राहत केंद्र बनाने और उनके लिए भोजन एवं आवास की व्यवस्था करने में किया जाएगा। जो लोग बिहार के बाहर फंसे हुए हैं या फिर रास्ते में हैं उन्हें रेसिडेंट कमिश्नर के माध्यम से संबंधित राज्य सरकार और स्थानीय प्रशासन से समन्वय स्थापित कर वहीं पर भोजन एवं आवास की व्यवस्था बिहार सरकार के खर्चे पर की जा रही है ।इसके अलावा आपदा राहत केंद्रों पर कोरोना संबंधित स्वास्थ्य सेवाएं भी उपलब्ध रहेगी। सरकार ने बनाई अधिकारियों की टीम

लॉक डाउन की वजह से बिहार से बाहर काम करने वाले बिहारियों की मदद के लिए बिहार सरकार ने अब कदम उठाया हैं । बिहार सरकार ने दूसरे राज्यों में लॉक डाउन की वजह से फसे बिहारियों की मदद के लिए अधिकारियों की टीम बनाई है।

अन्य राज्यों में करीब 1500 बिहारी फसे हैं

बता दें कि अभी दिल्ली में करीब 400, बंगाल में तकरीबन 500, तमिलनाडु में 250 पंजाब में 400 दिहाड़ी मजदूर और अन्य जगह पर काम करने वाले लोग फंसे हुए हैं ।हालांकि उन्हें बिहार लाना अभी संभव नहीं है ।

981831252 और 9773711261 पर फ़ोन कर मांगे मदद

बिहार सरकार के अधिकरियो की टीम अन्य राज्यो में फसे बिहारियों कर रहने खाने की व्यवस्था देखेंगे। बिहार सरकार ने इसके लिए दो नंबर भी जारी किए हैं 981831252 और 9773711261 पर फ़ोन कर सहायता मांग सकते है।

ये भी पढ़े-बिहार में लॉकडाउन से परेशान 26 मजदूरों को पुलिस ने घर छोड़ा

श्रम मंत्रालय ने उठाये कदम

इसके अलावे बिहार सरकार के श्रम मंत्रालय ने भी बिहार के बाहर फंसे बिहारी मजदूरों के लिए महत्वपूर्ण कदम उठाए हैं।श्रम मंत्री विजय कुमार सिन्हा ने बताया कि श्रम विभाग द्वारा कोषांग पदाधिकारियों का नंबर जारी किया गया है।

सहायता के लिए इनसे करें संपर्क

अन्य राज्यो में फसे बिहार के लोग 9476191436 पर अपर मुख्य सचिव सुधीर कुमार या 9431019731,7631499034,9973904546 पर अन्य अधिकारी से सहायता के लिए बात कर सकते है। श्रम मंत्रालय की ओर से बताया गया कि दिल्ली में एक DLC दिग्विजय सिंह हर राज्य में फसे बिहारियों की सहायता के लिए राज्यो से कॉर्डिनेट कर रहे है।

प्रशांत किशोर ने किया था ट्वीट

आपको बता दें कि चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर ने बुधवार को ही ट्वीट किया था। ट्वीट के जरिये उन्होंने बिहार सरकार को दिल्ली और अन्य राज्यों में फंसे बिहार के लोगों की राज्य सरकार मदद करने की बात कही थी। साथ ही प्रशांत किशोर ने मांग की थी कि बिहार सरकार राज्य के बाहर फंसे बिहारियों को उनके घर तक पहुंचाने की व्यवस्था करे और उन्हें राहत पहुंचाए। उन्होंने यह भी कहा था कि दुनिया भर की सरकार अपने लोगों की मदद कर रही है ,तो बिहार सरकार इन लोगों का सहयोग क्यों नहीं कर रही।

Web Title bihar lockdown: cm nitish kumar announced 100 crore relief package(News in Hindi from Navbharat Times , TIL Network)

रेकमेंडेड खबरें

  • KVS Admission 2020: जानें कब आएगा नोटिफिकेशन KVS Admission 2020: जानें कब आएगा नोटिफिकेशन
  • गोरखपुर: आइसोलेट किए गए हैं दो संदिग्ध, सभी 5 केस निगेटिव गोरखपुर: आइसोलेट किए गए हैं दो संदिग्ध, सभी 5 केस निगेटिव
  • 1.7 लाख करोड़ का कोरोना स्पेशल पैकेज, वित्त मंत्री की 12 प्रमुख घोषणाएं 1.7 लाख करोड़ का कोरोना स्पेशल पैकेज, वित्त मंत्री की 12 प्र..
  • लॉकडाउन के बीच वीएचपी की अपील, 'हिंदू धर्म के लोग अपने घरों में ही मनाएं रामनवमी का उत्सव' लॉकडाउन के बीच वीएचपी की अपील, ‘हिंदू धर्म के लोग अपने घरों ..
  • कोरोना के खिलाफ जंग: बड़ी तैयारी में रेलवे, आइसोलेशन कोच-वेंटिलेटर्स बनाने की योजना कोरोना के खिलाफ जंग: बड़ी तैयारी में रेलवे, आइसोलेशन कोच-वें..
  • PM मोदी के लिए दुआ करते हुए भावुक हुईं अनुपम खेर की मां, कहा- ऐसा मंत्री कहां मिलेगा PM मोदी के लिए दुआ करते हुए भावुक हुईं अनुपम खेर की मां, कहा..
  • लॉकडाउन: ऐक्टिविस्ट का डर, बेजुबानों के लिए कहीं Pet Shop न बन जाएं ताबूत लॉकडाउन: ऐक्टिविस्ट का डर, बेजुबानों के लिए कहीं Pet Shop न ..
  • कोरोना वायरस से पस्त इकॉनमी को निर्मला का बूस्टर, 1.70 लाख करोड़ का पैकेज, EPF में पूरा योगदान सरकार करेगी कोरोना वायरस से पस्त इकॉनमी को निर्मला का बूस्टर, 1.70 लाख क..
  • रद्द होने की आशंका के बावजूद आईपीएल की तैयारी में जुटे स्टोक्स रद्द होने की आशंका के बावजूद आईपीएल की तैयारी में जुटे स्टोक..
  • पाकिस्तान में मौत का आंकडा 1000 के पार, मेडिकल सप्लाई भेजने को चीन तैयार पाकिस्तान में मौत का आंकडा 1000 के पार, मेडिकल सप्लाई भेजने ..
  • डिलीट करें ये 50 'क्रिमिनल' ऐप्स, खा रहे हैं फोन की बैटरी और परफॉर्मेंस डिलीट करें ये 50 ‘क्रिमिनल’ ऐप्स, खा रहे हैं फोन की बैटरी और..
  • KVS Admission Date 2020: जानें कब तक शुरू होगी दाखिला प्रक्रिया, पढ़ें पूरी डीटेल KVS Admission Date 2020: जानें कब तक शुरू होगी दाखिला प्रक्र..
  • त्योहार पर भी सूनी रही मुंबई की 'काशी' त्योहार पर भी सूनी रही मुंबई की ‘काशी’
  • हमारी बॉडी को किस तरह कोरोना के प्रकोप से बचाता है विटमिन-C, जानें डिटेल हमारी बॉडी को किस तरह कोरोना के प्रकोप से बचाता है विटमिन-C,..
  • Coronavirus: बीमारी के लक्षण, इलाज और बचाव के बारे में जानें सबकुछ Coronavirus: बीमारी के लक्षण, इलाज और बचाव के बारे में जानें..



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *