Election Of Bjp’s State President Will Be On 17 January – चंडीगढ़-पंजाब भाजपा को इसी हफ्ते मिलेगा नए प्रदेशाध्यक्ष, 16 को नामांकन, 17 जनवरी को चुनाव


ख़बर सुनें

चंडीगढ़ और पंजाब को इसी हफ्ते भाजपा अध्यक्ष मिल जाएंगे। चंडीगढ़ में करीब 10 साल बाद भाजपा का चेहरा बदलने वाला है। पार्टी हाईकमान ने भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष के चुनाव के लिए 17 जनवरी का दिन निर्धारित किया है। 16 जनवरी को नामांकन भरा जाएगा। नामांकन वही नेता भरेगा, जिसके नाम की घोषणा पार्टी की तरफ से की जाएगी। 

भाजपा सूत्रों के अनुसार पार्टी हाईकमान ने नए प्रदेश अध्यक्ष का नाम तय कर लिया है। अगले दो दिनों में हाईकमान की तरफ से अध्यक्ष के नाम की घोषणा कर दी जाएगी। इसके बाद वह नेता प्रदेश अध्यक्ष के निए नामांकन भरेगा। 17 जनवरी को सेक्टर-33 स्थित भाजपा कार्यालय में अध्यक्ष को चुनने की प्रक्रिया पूरी की जाएगी। 

इस दौरान प्रदेश के नेताओं के अलावा दिल्ली के भी नेता उपस्थित रहेंगे। गौरतलब है कि शहर के कई नेता भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष की कुर्सी के लिए भागदौड़ कर रहे हैं। बीते दिनों भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष और मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान भी शहर आए थे और प्रदेश के नेताओं की राय ली थी। शिवराज चौहान ने पार्टी के मुख्य सदस्यों, पूर्व अध्यक्ष, जिला अध्यक्ष और पार्षदों से बातचीत की थी।

10 साल तक प्रदेश अध्यक्ष रहने वाले टंडन पहले नेता
10 साल तक भाजपा में प्रदेश अध्यक्ष बने रहने वाले संजय टंडन पहले नेता हैं। संजय टंडन 18 जनवरी 2010 को प्रदेश अध्यक्ष बनाए गए थे, जिसके बाद से अभी तक वह इस पद पर काबिज हैं। टंडन का दूसरा कार्यकाल जनवरी 2016 में ही खत्म हो गया था, बावजूद इसके पार्टी ने टंडन पर विश्वास जताया और पद पर बनाए रखा। 

टंडन के नेतृत्व में 2011 नगर निगम चुनाव हुआ। साल 2012 में पंचायत समिति, 2013 में सरपंच चुनाव, 2014 लोकसभा चुनाव, साल 2015 में मार्केट कमेटी चुनाव, 2016 नगर निगम चुनाव, साल 2017 में जिला परिषद और पंचायत समिति चुनाव और 2019 लोकसभा चुनाव की कमान संभाली है। 

मुख्य गुट और दावेदार

संजय टंडन गुट : टंडन की ओर से पार्षद और पूर्व मेयर अरुण सूद, महासचिव चंद्रशेखर, प्रदेश उपाध्यक्ष रामबीर भट्टी, आशा जसवाल आदि का नाम प्रस्तावित किया गया है। इनमें अरुण सूद का नाम सबसे आगे चल रहा है।

किरण खेर गुट: सांसद किरण खेर की तरफ से पूर्व पार्षद सतिंदर सिंह, संजीव वशिष्ठ और प्रदीप शर्मा के नाम भेजे गए हैं। इनमें सतिंदर सिंह सबसे आगे हैं क्योंकि सतिंदर पार्टी और संघ में कई साल से कार्यरत हैं। लोकसभा चुनाव में भी उन्होंने अहम जिम्मेदारी निभाई थी।

सत्यपाल जैन गुट: शहर से दो बार सांसद और एडिशनल सॉलिसिटर जनरल ऑफ इंडिया सत्यपाल जैन की तरफ से पार्षद और पूर्व मेयर देवेश मोदगिल का नाम प्रस्तावित किया गया है। सूत्रों के अनुसार जैन की दिल्ली के नेताओं से भी इस संबंध में चर्चा कर चुके हैं।

सूत्रों के मुताबिक पार्षद और पूर्व मेयर अरुण सूद के नाम पर सहमति बन गई है। सूद का प्रदेश अध्यक्ष बनना लगभग तय माना जा रहा है। हालांकि, जब इस बारे में संगठन मंत्री दिनेश कुमार से बात की गई तो उन्होंने कहा कि पार्टी की तरफ से अभी किसी के नाम की औपचारिक घोषणा नहीं की गई है।

सोमवार शाम तक सूद के नाम को लेकर सियासी गलियारों में खूब चर्चा रही। पार्टी सूत्रों के मुताबिक अरुण सूद को चंडीगढ़ इकाई का अध्यक्ष बनाए जाने को लेकर स्थानीय आरएसएस के पदाधिकारियों की भी सहमति मिल चुकी है।

पंजाब भाजपा को इस सप्ताह मिलेगा प्रदेश अध्यक्ष
इस सप्ताह प्रदेश भाजपा को नया प्रधान मिल जाएगा। बीस जनवरी को कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा ने कार्यभार संभालना है। इसलिए उससे पहले पार्टी सभी प्रदेश इकाइयों की चुनाव प्रक्रिया पूरी करेगी। पंजाब में 16 जनवरी को प्रधान के लिए नामांकन होगा, 17 को इसका एलान कर दिया जाएगा।

प्रदेश प्रधान और राष्ट्रीय परिषद के 13 सदस्यों के चुनाव के लिए पार्टी की ओर से अनिल सरीन को प्रभारी नियुक्त किया गया है। सरीन ने बताया कि 16 जनवरी को दोपहर तीन से शाम पांच बजे तक प्रदेश प्रधान और राष्ट्रीय परिषद के सदस्यों के चुनाव के उम्मीदवार अपने नामांकन दाखिल करेंगे। शाम पांच से छह बजे तक नामांकन वापस लिए जा सकेंगे। 

17 जनवरी को जालंधर में दोपहर दो से तीन बजे तक नामांकन पत्रों की जांच की जाएगी। तीन से पांच बजे तक चुनाव प्रक्रिया पूरी कर प्रधान और परिषद सदस्यों का एलान कर दिया जाएगा। पार्टी की ओर से राष्ट्रीय उपाध्यक्ष विनय सहस्त्रबुद्धे और राष्ट्रीय सचिव महेश गिरी को पंजाब चुनाव का प्रभारी बनाया गया है। 

सरीन ने दावा किया कि भाजपा एकमात्र संगठन है, जहां सारी चुनाव प्रक्रिया निष्पक्ष और पारदर्शी होती है। कोई भी कार्यकर्ता किसी भी पद के चुनाव के लिए अपनी उम्मीदवारी पेश कर सकता है। पिछले दिनों संगठनात्मक चुनाव प्रक्रिया के दौरान पहले बूथ, मंडल और जिला प्रधानों के चुनाव करवाए गए थे। अब प्रदेश प्रधान की बारी है।

चंडीगढ़ और पंजाब को इसी हफ्ते भाजपा अध्यक्ष मिल जाएंगे। चंडीगढ़ में करीब 10 साल बाद भाजपा का चेहरा बदलने वाला है। पार्टी हाईकमान ने भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष के चुनाव के लिए 17 जनवरी का दिन निर्धारित किया है। 16 जनवरी को नामांकन भरा जाएगा। नामांकन वही नेता भरेगा, जिसके नाम की घोषणा पार्टी की तरफ से की जाएगी। 

भाजपा सूत्रों के अनुसार पार्टी हाईकमान ने नए प्रदेश अध्यक्ष का नाम तय कर लिया है। अगले दो दिनों में हाईकमान की तरफ से अध्यक्ष के नाम की घोषणा कर दी जाएगी। इसके बाद वह नेता प्रदेश अध्यक्ष के निए नामांकन भरेगा। 17 जनवरी को सेक्टर-33 स्थित भाजपा कार्यालय में अध्यक्ष को चुनने की प्रक्रिया पूरी की जाएगी। 

इस दौरान प्रदेश के नेताओं के अलावा दिल्ली के भी नेता उपस्थित रहेंगे। गौरतलब है कि शहर के कई नेता भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष की कुर्सी के लिए भागदौड़ कर रहे हैं। बीते दिनों भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष और मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान भी शहर आए थे और प्रदेश के नेताओं की राय ली थी। शिवराज चौहान ने पार्टी के मुख्य सदस्यों, पूर्व अध्यक्ष, जिला अध्यक्ष और पार्षदों से बातचीत की थी।

10 साल तक प्रदेश अध्यक्ष रहने वाले टंडन पहले नेता
10 साल तक भाजपा में प्रदेश अध्यक्ष बने रहने वाले संजय टंडन पहले नेता हैं। संजय टंडन 18 जनवरी 2010 को प्रदेश अध्यक्ष बनाए गए थे, जिसके बाद से अभी तक वह इस पद पर काबिज हैं। टंडन का दूसरा कार्यकाल जनवरी 2016 में ही खत्म हो गया था, बावजूद इसके पार्टी ने टंडन पर विश्वास जताया और पद पर बनाए रखा। 





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *