hyderabad News: जब तिरंगा राष्ट्रीय ध्वज घोषित हुआ तो आरएसएस के लोगों ने इसे अशुभ बताया था: ओवैसी – asaduddin owaisi says when tricolor declares as national flag rss called it inauspicious


Published By Shefali Srivastava | नवभारतटाइम्स.कॉम | Updated:

तेलंगाना में रैली के दौरान ओवैसी

मेडक

आईएमआईएम अध्यक्ष और हैदराबाद से सांसद असदुद्दीन ओवैसी ने राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) पर आरोप लगाते हुए कहा कि जब तिरंगा राष्ट्रीय ध्वज घोषित हुआ तो आरएसएस ने इसे अशुभ बताया था। दूसरी ओर ओवैसी ने कांग्रेस पर भी हमला बोलते हुए कहा कि कांग्रेस के लोगों के पास पैसा बहुत है। उन्होंने रैली संबोधित करते हुए कहा कि पैसा कांग्रेस से ही लीजिए लेकिन वोट ओवैसी को दीजिए। बता दें कि तेलंगाना में नगर निकाय चुनाव होने वाले हैं।

ओवैसी ने सोमवार को तेलंगाना के मेडक में रैली संबोधित करते हुए कहा, ‘मैं बीजेपी से पूछना चाहता हूं कि क्या यह सच है कि जब तिरंगा राष्ट्रीय ध्वज घोषित हुआ था तो आरएसएस के आयोजक ने लिखा था कि तिरंगा अशुभ है। मैं उन्हें चुनौती देता हूं कि इस तथ्य का खंडन करके दिखाए। मैं उन्हें सबूत दिखाऊंगा।’ उन्होंने आगे कहा, ‘बीजेपी और कांग्रेस कहती हैं कि मैं उनसे डरता हूं।’

‘तिरंगा रैली में एक लाख से अधिक लोगों ने लिया भाग’

ओवैसी ने कहा, ‘हमने हाल ही में तिरंगा रैली की थी और एक लाख से ज्यादा लोगों ने इसमें भाग लिया था। वे लोग इस देश की मिट्टी की रक्षा करना चाहते हैं। जब बीजेपी और कांग्रेस नेताओं ने यह रैली देखी तो उन्होंने कहा कि ओवैसी ने तिरंगा इसलिए लिया है क्योंकि मैं उनसे डरता हूं।’



कांग्रेस मेरा भाव बढ़ाए: ओवैसी


ओवैसी ने कहा, ‘मैं उनसे कहना चाहता हूं कि उनका सोचना गलत है… हमने तिरंगा इसलिए उठाया क्योंकि जिन्होंने पहले तिरंगा उठाया था, उनके हाथ में भले ही राष्ट्रीय ध्वज हो लेकिन दिमाग में गोडसे था।’ कांग्रेस पर निशाना साधते हुए ओवैसी ने कहा, ‘कांग्रेस के लोगों पर बहुत पैसा है…आप उनसे पैसे लीजिए लेकिन वोट मुझे दीजिए। मैं कांग्रेस को मेरा भाव बढ़ाने के लिए कहता हूं, मेरा भाव सिर्फ 2 हजार रुपये नहीं है। मैं इससे अधिक कीमत का हूं।’



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *