internet in tripura: कैब का विरोध: अफवाहें तेज होने पर त्रिपुरा में 48 घंटे के लिए बंद इंटरनेट-एसएमएस – sms and mobile internet suspended in tripura for 48 hours amidst cab protests


हो रहा है विरोध
हाइलाइट्स

  • नागरिकता संशोधन विधेयक बिल पारित करने के बाद तनाव
  • त्रिपुरा सरकार ने 48 घंटे के लिए बैन किया इंटरनेट-एसएमएस
  • आदिवासियों-गैर आदिवासियों के बीच झड़प की अफवाहें
  • त्रिपुरा के धलाई जिले के एक बाजार में प्रदर्शनकारियों ने लगाई आग

अगरतला

लोकसभा में नागरिकता (संशोधन) विधेयक पारित किए जाने के बाद से त्रिपुरा में तनाव की स्थिति है। हालात को देखते हुए सरकार ने अगले 48 घंटे के लिए मोबाइल इंटरनेट और एसएमएस सेवाएं बंद कर दी हैं। प्रशासन को डर था कि माहौल खराब करने वाली अफवाहें फैलाई जा रही हैं जिसके चलते यह कदम उठाया गया है।

जानकारी के मुताबिक राज्य पुलिस को ऐसी खबरें मिली थीं कि मनु कंचनपुर इलाके में आदिवासियों और गैर-आदिवासी समूहों के बीच झड़प की अफवाहों सोशल मीडिया पर फैलाई जा रही हैं। इसके चलते एहतियात के तौर पर राज्य सरकार ने 48 घंटे के लिए मोबाइल इंटरनेट और एसएमएस सेवा भी बंद कर दी गई।

यह भी पढ़ें: असम: सीएम सर्बानंद सोनोवाल ने किया नागरिकता संशोधन बिल का स्वागत

इससे पहले विधेयक के विरोध में एनईएसओ द्वारा बुलाए गए बंद में भाग लेने वाले प्रदर्शनकारियों ने मंगलवार को त्रिपुरा के धलाई जिले के एक बाजार में आग लगा दी। इस बाजार में ज्यादातर दुकानों के मालिक गैर-आदिवासी हैं। एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने बताया कि इस घटना में कोई भी घायल नहीं हुआ है और मनुघाट बाजार में लगी आग बुझा दी गई है।

यह भी पढ़ें: नागरिकता बिल: डर, हिचक…नॉर्थ ईस्‍ट पर इसका कितना असर?

अधिकारी ने बताया, ‘बाजार में सुरक्षाबल तैनात किए गए हैं, लेकिन इस घटना से गैर-आदिवासी लोगों के मन में भय है, जो ज्यादातर दुकानों के मालिक हैं।’ उन्होंने बताया कि बंद को त्रिपुरा के आदिवासी क्षेत्रों में भारी समर्थन मिला है।

नागरिकता संशोधन विधेयक: अमेरिकी आयोग की टिप्पणी की भारत ने की निंदानागरिकता संशोधन विधेयक: अमेरिकी आयोग की टिप्पणी की भारत ने की निंदा



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *