RNI NEWS :- प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना में पंजीकरण कर उठाएं पेंशन का लाभ

RNI NEWS :- प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना में पंजीकरण कर उठाएं पेंशन का लाभ

RNI NEWS INTERNATINAAL DESK

मंडी 09 जुलाई  : -मंडी जिला प्रशासन प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना को जिले में प्रभावी तरीके से लागू करने के लिए गंभीर प्रयास कर रहा है। इस योजना के बारे में लोगों को जागरूक करने व पंजीकरण के लिए जिलाभर में विशेष अभियान चलाया जाएगा। अतिरिक्त उपायुक्त आशुतोष गर्ग ने मंगलवार को यहां योजना के प्रभावी कार्यान्वयन को लेकर रणनीति बनाने के लिए संबंधित अधिकारियों के साथ बैठक की। बैठक में सभी खंड विकास अधिकारी, श्रम एवं रोजगार और स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी तथा लोक मित्र केंद्रों के संचालक मौजूद रहे

यहां लगेंगे शिविर-आशुतोष गर्ग ने कहा प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना में लोगों के पंजीकरण के लिए जिले के हर ब्लॉक में शिविर लगाए जाएंगे, ताकि अधिक से अधिक पात्र लोग इसका लाभ पा सकें। श्रम एवं रोजगार विभाग योजना का संचालन कर रहा है। विभाग जिला में खंड स्तर पर पंजीकरण शिविर लगाएगा । यह शिविर 11 जुलाई को बालीचौकी,15 जुलाई को संधोल,20 जुलाई को पधर,24 जुलाई को गोपालपुर, 27 जुलाई को धर्मपुर और 31 जुलाई को सदर मंडी ब्लॉक में आयोजित किए जायेंगे जबकि 3 अगस्त को करसोग, 8 अगस्त को गोहर,16 अगस्त को नेरचौक तथा 23 अगस्त को चौंतड़ा ब्लॉक में लगाए शिविर लगाए जाएंगे इसके अलावा सुंदरनगर में पहले ही एक शिविर आयोजित किया जा चुका है अतिरक्ति उपायुक्त ने बताया योजना में पंजीकरण के लिए कोई भी फीस नहीं है लोकमित्र केन्द्रों में निःशुल्क पंजीकरण के लिए आधारकार्ड, बचत बैंक खाता/जनधन खाता और मोबाईल नम्बर देना होगा जानें क्या है प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना के तहत असंगठित क्षेत्र से जुड़े श्रमिकों को 3 हजार रुपये की मासिक पेंशन सुनिश्चित होगी। योजना असंगठित क्षेत्र के उन श्रमिकों को लाभान्वित करेगी जिनके पास आधार कार्ड तथा जनधन या अन्य बैंक खाते हैं और जिनकी मासिक आय 15 हजार रुपये से कम है। इसके तहत 18 से 40 वर्ष तक के श्रमिक लाभान्वित होंगे यह योजना स्वैच्छिक तथा अंशदान पर आधारित योजना है जिसके तहत 60 वर्ष की आयु के उपरांत लाभार्थी को कम से कम 3 हजार रुपये की मासिक पेंशन दी जाएगी।योजना के अंतर्गत श्रमिक द्वारा अंशदान की अधिकतम सीमा 50 प्रतिशत तक हो सकती है 50 प्रतिशत केन्द्र सरकार द्वारा दिया जाएगा। इसके लिए आयु के हिसाब से न्यूनतम 55 रूपये तथा अधिकतम 200 रूपये मासिक अंशदान देय होगा

योजना में घरेलू कामगार, बोझा उठाने वाले, भट्टे पर काम करने वाले, मोची,कचरा उठाने वाले, धोबी, फेरी वाले,कृषक कामगार,भवन एवं निर्माण,हस्त कला,चर्म, ओडियो/वीडियो कार्य,मिड डे मील कार्यकर्ता,स्वयं रोजगार एवं मनरेगा व समान अन्य व्यवसाय करने वाले लोग लाभान्वित होंगे बैठक में भवन एवं अन्य निर्माण कामगार कल्याण बोर्ड और जिला में कौशल विकास भत्ता योजना की भी समीक्षा की गई। बताया कि जिला में 28,696 पात्र लोगों का पंजीकरण किया जा चुका है। उन्होंने पात्र लोगों से योजना का अधिक से अधिक लाभ उठाने का आह्वान किया बैठक में श्रम अधिकारी पी.सी ठाकुर, जिला रोजगार अधिकारी शमी शर्मा,श्रम निरीक्षक भावना शर्मा,उप क्षेत्रीय रोजगार अधिकारी उपेन्द्र सिंह, विभिन्न ब्लॉक के खंड विकास अधिकारी व लोकमित्र केंद्र संचालक उपस्थित थे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *