RNI NEWS-संसद में कृषि ऑर्डिनेंस रखने के खिलाफ किसान मजदूरों का धरना दूसरे दिन भी जारी


RNI NEWS-संसद में कृषि ऑर्डिनेंस रखने के खिलाफ किसान मजदूरों का धरना दूसरे दिन भी जारी

जंडियाला गुरु कुलजीत सिंह

किसान मजदूर संगर्ष कमेटी पंजाब द्वारा आज का धरना भी सांझे सँघर्ष को समर्पित किया किसान नेताओं सरवन सिंह पंधेर,सुखविंदर सिंह सभरा, गुरबचन सिंह चब्बा,हरप्रीत सिंह सिधवां ने कहा कि आम लोगों की परेशानी के लिए माफ़ी चाहते हैं राहगीरों को देश और पंजाब की कृषि को बचाने के लिए कुछ तकलीफ सहनी पड़ेगी पर यह कानून पास होने से सदियों भर की तकलीफ सहन करनी पड़ेगी ब्यास पुल पर किसानों , मजदूरों के धरने को और मजबूती मिली जब इस धरने में दल खालसा अमृतसर,आढ़ती एसोसिएशन दाना मंडी भगतां अमृतसर और पल्लेदार यूनियन द्वारा राजन वर्मा प्रधान रईया,राकेश कुमार तुली पंजाब प्रधान पल्लेदार यूनियन की अध्यक्षता में बड़े जत्थों के साथ पहुंच कर कृषि ऑर्डिनेंस रदद् करने की मांग की गई किसान नेताओ ने कहा कि मोदी सरकार कृषि बिल पास करने के लिए तुली हुई है पर विरोधी पक्ष इन बिलों का तीखा विरोध नही कर रही भारत में आज लोकतंत्र ना होकर एक तानाशाही राज्य बन गया है

पंजाब सरकार ने हाईकोर्ट में किसी रिट डलवा कर हमारे वकील को बुलाये बिना ही एकतरफा फैसला सुना दिया हाईकोर्ट का सहारा लेकर पंजाब सरकार धरनकारियो को उठाने का बहाना बना रही है किसान नेताओं ने संसद में इन ऑर्डिनेंस के हक़ में वोट डालने वाले सांसद के गांव में ना जाने का फैसला लिया गया है उन्होंने मांग की कि यह तीनों कृषि ऑर्डिनेंस रदद् किये जाएं ,बिजली संशोधन बिल 2020 को रद्द किया जाए स्वामीनाथन कमीशन की रिपोर्ट लागू कर 23 फसलों के भाव लागत खर्चों में 50 प्रतिशत मुनाफा जोड़कर घोषित किया जाए मौके पर लखविंदर सिंह, जर्मनजीत सिंह ,धन्ना सिंह ,सतिंदर सिंह ,गुरजीत सिंह , जरनैल सिंह,सतनाम सिंह,निर्मल सिंह,राज सिंह ,साहब सिंह ,किरपाल सिंह ,राजीव कुमार ,राजेश टांगरी ,दविंदर भंगू ,जैमल सिंह ,लाडी राजधान व अन्य हाज़िर थे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *