RNI NEWS-सम्पत्ति कर बकायादारों को सरकार का नववर्ष ब्याज माफी तोहफा-निगमायुक्त


RNI NEWS-सम्पत्ति कर बकायादारों को सरकार का नववर्ष ब्याज माफी तोहफा-निगमायुक्त

करनाल 7 जनवरी – सुखविंदर सोहल 

प्रॉपर्टी टैक्स बकायादारों के लिए सरकार ने फिर उदारता दिखाते हुए नववर्ष पर ब्याज माफी का तोहफा दिया है इसके तहत आगामी 31 मार्च 2021 तक जो बकायादार नगर निगम के खजाने में एकमुश्त राशि जमा करवाएगा उसे समस्त ब्याज माफी की छूट का लाभ मिलेगा यही नहीं क्रंट यानि चालू बिलों पर भी 10 प्रतिशत की अतिरिक्त छूट मिलेगी खास बात यह है कि सरकार ने चालू वित्त वर्ष के दौरान चौथी बार इस तरह की ब्याज माफी का लाभ दिया है इस तरह से हुई ब्याज माफी की घोषणा- निगमायुक्त ने बताया कि सरकार की ओर से पहले 31 अगस्त 2020 तक बकाया टैक्स जमा करवाने पर समस्त ब्याज माफी की छूट की घोषणा की गई दूसरी बार 31 अक्तूबर 2020, तीसरी बार 31 दिसम्बर 2020 और अब चौथी बार 31 मार्च 2021 तक ब्याज माफी की घोषणा अपने आप में बड़ी बात है बिल में त्रुटी है तो निगम कार्यालय में करवाएं ठीक- आयुक्त ने बताया कि यदि किसी नागरिक के प्रॉपर्टी टैक्स बिल में किसी तरह की त्रुटी है तो वह आसानी से ठीक करवाई जा सकती है इसके लिए निगम कार्यालय की टैक्स ब्रांच सभी कार्य दिवसों पर तत्परता से काम करती है, बिल दिखाकर मिनटो में ही त्रुटी ठीक हो जाती है
निगम खजाने में अब तक जमा हुए 15 करोड़ 25 लाख रूपये,डिमांड 25 करोड़ की- निगमायुक्त विक्रम ने बताया कि निगम के खजाने में अब तक करीब 15 करोड़ 25 लाख रूपये प्रॉपर्टी टैक्स के रूप में जमा हो पाए हैं जबकि डिमांड 25 करोड़ रूपये की है बकायादारों को कर से मुक्त करने के लिए सरकार ने अब फिर 31 मार्च 2021 तक बकाया टैक्स को ब्याज माफी के साथ जमा करवाने का एलान किया है। इसे देखते बकायादारों को चाहिए कि वे इस सुनहरी मौके का फायदा उठाएं और निगम के खजाने में प्रॉपर्टी टैक्स जमा करवाकर चिंता मुक्त हो जाएं
आयुक्त ने बताया कि नागरिकों की जानकारी के लिए शहर की भिन्न-भिन्न करीब 30 लोकेशन पर प्रॉपर्टी टैक्स जमा करवाने और ब्याज माफी की छूट का लाभ उठाने की सूचना देने के लिए फलैक्स बोर्ड लगाए जाएंगे यहीं नही निगम की ऐसे बकायादारों से अपील भी जारी रहेगी अब बकायादारों को चूक नहीं करनी चाहिए ताकि निगम के खजाने में लक्ष्य के फलस्वरूप टैक्स राशि जमा हो सके और जमा राशि को शहर के विकास कार्यों पर खर्च करने का रास्ता प्रशस्त किया जा सके
ऑनलाईन भी भर सकते हैं प्रॉपर्टी टैक्स-आयुक्त ने बताया कि जो व्यक्ति टैक्स भरने के लिए किसी कारण से निगम कार्यालय का रूख नहीं कर सकते, उनके लिए ऑनलाईन टैक्स भरने की बहुत ही आसान प्रक्रिया है। इसके तहत दो वैबसाईट जारी की गई हैं पहली एमसी करनाल डॉट ओआरजी तथा दूसरी, ऑनलाईन डॉट यूएलबी हरियाणा डॉट जीओवी डॉट इन है इसके अतिरिक्त प्रॉपर्टी टैक्स बिल पर छपे बार कोड को स्कैन करके साईट ओपन हो जाती है, उसमें भी व्यक्ति क्रेडिट व डेबिट कार्ड या पेटीएम से ऑनलाईन पेमेंट कर सकते हैं इसमें समय की बचत भी होगी प्रॉपर्टी टैक्स डिफाल्टरों की प्रॉपर्टी सील करने की कार्रवाई अगले सप्ताह से निगमायुक्त ने बताया कि बार-बार नोटिस और अपील के बाद भी जिन प्रॉपर्टी टैक्स बकायादारों ने निगम कार्यालय में टैक्स जमा नहीं करवाया अब अगले सप्ताह से उनकी प्रॉपर्टी सील करने का निर्णय लिया गया है दूसरी ओर बड़े-बड़े 226 डिफाल्टरों को प्रॉपर्टी टैक्स के नोटिस पहले ही सर्व किए जा चुके हैं जिनमें यह चेतावनी दी गई है कि नोटिस प्राप्त करने के बाद भी जो बकायादार टैक्स जमा करवाने का मन नहीं बनाएंगे उनकी प्रॉपर्टी को सील किया जाएगा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *