RNI NEWS- Captain did not pass on giving more rights to states, right to buy and sell 95% to states: Pandher


RNI NEWS-राज्यों को ज्यादा अधिकार,खरीदने और बेचने का अधिकार 95% राज्यों को देना के मते कैप्टन ने नही किये पास : पंधेर

जंडियाला गुरु कुलजीत सिंह

किसान मज़दूर सँघर्ष कमेटी पंजाब का रेल रोको आंदोलन आज 27 वें दिन में दाखिल हो गया। किसान जत्थेबंदी के राज्य सचिव सरवन सिंह पंधेर ,सुखविंदर सिंह सभरा ,हरप्रीत सिंह सिधवां ने कहा कि विधानसभा में जो मते पास किये गए हैं उनमें ए पी एम सी एक्ट 2005 ,2013 और 2017 में की सोधे वापिस नही ली ।राज्यो के ज्यादा अधिकार देने ,राज्यो को फसल बेचने और खरीदने का अधिकार वाले मते पंजाब विधानसभा में नही पास किये गए ।जो मते लाए गए हैं वह यह है कि एम एस पी से कम रेट पर फ़सल खरीदने वाले को 3 साल की सज़ा ,सारे पंजाब को मंडी घोषित किया गया है,बिजली सोध बिल ,और तीन कृषि कानून को रद्द कर दिया गया है यह किसानों और मज़दूरों के दबाव में ही किये गए हैं पर इससे केंद्र के कानून रदद् नही हो जाते इसके आगे भी बहुत सारी मुश्किलें हैं जैसे यह कानून पहले राज्यपाल के पास फिर राष्ट्रपति के पास और राष्ट्रपति सुप्रीम कोर्ट की सलाह लेगा इसलिए गुमराह करने वाले बयानों द्वारा जो पंजाब सरकार प्रचार कर रही है कि किसान सँघर्ष छोड़ कर घरों को चले जाएं तकलीफ ना करें औऱ सरकार हक़ में आ गई है इस आंदोलन की नुकसान वाली यह बात है कि इसका असली हल किसानों मज़दूरों का आंदोलन है और इस आंदोलन के साथ ही यह कानून रदद् हो सकता है
कैप्टन अमरिंदर सिंह के अटॉर्नी जनरल तथ्यों पर यह बयान दें कि मता पास करने से यह कानून कैसे बन सकते हैं ऐसे ही वर्ष 2004 में पानियों का मता जो कैप्टन सरकार द्वारा लाया गया था ।वह सुप्रीम कोर्ट में जाकर रदद् हो गया ।लोगों के दबाव में जो मते आए हैं वह अच्छी बात है। परंतु पंजाब के लोग गुमराह ना हों जोनल स्तर पर मोदी सरकार का पुतला फूंक

मुहिम में राज सिंह ताज़ेचक्क,लखविंदर सिंह डाला, सतनाम सिंह भकना,कुलवंत सिंह साहिब सिंह ककड़,प्रगट सिंह किरलगड़ की अध्यक्षता में अटारी रोड जाम कर मोदी सरकार की अर्थी फूंकी गई और नारेबाजी करते हुए टीनो ऑर्डिनेंस को रद्द करने की मांग की गई 23 अक्तूबर को महिलाओं के बड़े इक्क्ठ को तयारी की गई है

इस मौके मंगजीत सिंह सिधवां,अमरदीप सिंह गोपी ,सतनाम सिंह मनोचाहल,सलविंदर सिंह जिओ बाला,धन्ना सिंह लालू घुम्मन ,रेशम सिंह घुरकविंड ,हरदीप सिंह जौहल,सतनाम सिंह सिधवां ,मुख्तार सिंह बाकीपुर ,जरनैल सिंह नूरदी ,नरिंजन सिंह बरगाड़ी ,मनजिंदर सिंह गोहल्वड ,लखविंदर सिंह प्लासौर ,वीर सिंह ,निंदर सिंह ,बचित्तर सिंह ,मलकीत सिंह रटौल ,मोहिंदर सिंह भोजिया ,कुलविंदर सिंह कैरोंवाल हाजिर थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *